उत्तर फिज़ाओं में है!

जाने माने गायक बॉब डिलन ने 1962 में ‘ब्लोइंन इन द विन्ड’ लिखा और 1963 में गीत रिलीज हुआ। आज, पाँच दशक बाद भी यह गाना लोगों की जुबां पर है। चाह है की इसे हिन्दी में भी गाया और सुना जाए। इसी लिए यह हिन्दी अनुवाद।

शान्ति, युद्ध, हिंसा, और आजादी के मुद्दों से जूझता यह विरोध का गीत सन् 1994 में ग्रैमी हॉल ऑफ फेम में सम्मिलित किया गया। रोलिंग स्टोन पत्रिका ने इस गीत को दुनिया के 500 महानतम गीतों की श्रंखला (500 ग्रेटेस्ट सॉन्ग्स ऑफ ऑल टाइम) में 14वां स्थान दिया है। यह गीत कई अन्य गायकों द्वारा, अंग्रेजी तथा अन्य भाषाओं में, गाया जा चुका है।

‘ब्लोइंन इन द विन्ड’ का यह हिन्दी अनुवाद शाब्दिक नहीं है। शब्दों का चयन व प्रयोग निर्धारित करने में भाव व मीटर ने अहम भूमिका निभाई है।

उत्तर फिज़ाओं में है!

कितने कदम उसे चलने होंगे
तब कहलाएगा इंसान,
कितने समंदर कर पार, करे
खग रेत में आराम,
कितना बारूद दाग कर
होगा पूर्ण विराम!

उत्तर मेरे दोस्त, हवाओं में है,
उत्तर फिज़ाओं में है!

कब तक गिरी अखंड रहेगी
समंदर में घुलने से पहले,
कितने बरस उसे जीना होगा
कि आजादी में वो रह ले,
कितनी दफा मुख फेर कहोगे
सब अपना-अपना सह लें!

उत्तर मेरे दोस्त, हवाओं में है,
उत्तर फिज़ाओं में है!

कितनी बार नभ देखना होगा
कि दिख जाए नीला ख्वाब,
कितने कान चाहिए सिर पर
सुन सकने करूण विलाप,
कितनी लाशों के बिछने पर
होगा मृत्यु का आलाप!

उत्तर मेरे दोस्त, हवाओं में है
उत्तर फिज़ाओं में है!


The original lyrics of this famous Bob Dylan song is as follows –

How many roads must a man walk down
Before you call him a man?
How many seas must a white dove sail
Before she sleeps in the sand?
Yes, and how many times must the cannonballs fly
Before they’re forever banned?

The answer, my friend, is blowin’ in the wind
The answer is blowin’ in the wind

Yes, and how many years can a mountain exist
Before it’s washed to the sea?
Yes, and how many years can some people exist
Before they’re allowed to be free?
Yes, and how many times can a man turn his head
And pretend that he just doesn’t see?

The answer, my friend, is blowin’ in the wind
The answer is blowin’ in the wind

Yes, and how many times must a man look up
Before he can see the sky?
Yes, and how many ears must one man have
Before he can hear people cry?
Yes, and how many deaths will it take ’til he knows
That too many people have died?

The answer, my friend, is blowin’ in the wind
The answer is blowin’ in the wind

4 Responses

  1. जवाब मिलेगा हवाओं में कहीं..
    फ़िज़ाओं में जवाब मिलेगा..

  2. ऐसा लगता है कि बॉब डिलेन को साहित्य का नोबेल अकेले इसी कविता के लिए मिला हो..

  3. Jaya Jain says:

    Beautifully Translated.

  4. Ashok Mishra says:

    Good Work Navin!
    Now translate Mr. Tambourine man….or dafli wale is good enough 🙂

Leave a Reply to Ashok Mishra Cancel reply

Your email address will not be published.